उद्देश्य

हमारा उद्देश्य, विभिन्न प्रयासों के द्वारा शास्त्रों के ज्ञान का प्रचार और प्रसार है, जिससे कि सनातन धर्म और उसके शास्त्रों को समझा जा सके | इसमें हम केवल पुराणों आदि की चर्चा नहीं करते हैं अपितु सनातन धर्म के अन्यान्य शास्त्र यथा तर्कशास्त्र, छंदशास्त्र, नाट्यशास्त्र, योग आदि का अध्ययन करते हैं | हमारे सनातन धर्म में केवल ईश्वर की बातें नहीं हैं, अपितु सम्पूर्ण ज्ञान भी है और उस ज्ञान के प्रयोग से, कैसे ईश्वर तक पहुचा जा सकता है, इसकी हम चर्चा करते हैं |

बड़ों के लिए, शास्त्र ज्ञान के सत्र आयोजित करना | इसमें हम विभिन्न शास्त्रों, ग्रंथों को जैसे कि ज्योतिष, काव्य शास्त्र, नाट्य शास्त्र, शिक्षा शास्त्र, योग आदि को कहानियों, सन्दर्भों और विभिन्न उदाहरणों से सरल भाषा में समझने का प्रयास करते हैं |

युवाओं के लिए, विभिन्न कॉलेज में हम, लेक्चर्स का आयोजन करते हैं, जहाँ हम युवा पीढ़ी को, शास्त्रों के माध्यम से, आज के विषयों को और अच्छे से समझने में मदद करते हैं |

जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी, सोनीपत में “Business Ethics in Shastra’s way” विषय पर आख्यान

इनसे छोटे बच्चो के लिए, बालसंस्कारशाला का आयोजन किया जाता है, जिसमें बच्चो को श्लोक, सुभाषित, मनोरंजक कथाओं के साथ, नीति, जीवन, आदर्श, बड़ों के आदर, विज्ञान, तार्किक सोच आदि के बारे में विस्तार से पढ़ाया जाता है |

St. Xavier High School में बच्चो को सूर्य ग्रहण और चन्द्र ग्रहण को कहानी के माध्यम से पढ़ते हुए

इसके अलावा शास्त्रों और ग्रंथो के गूढ़ रहस्यों को आसानी से कहानी के माध्यम से समझाने हेतु, “अघोरी बाबा की गीता” नाम से उपन्यास सीरिज लिखी गयी है | इस कहानी को इस प्रकार लिखा गया है कि इसको एक उपन्यास को पढने मात्र से ही विभिन्न शास्त्रों का अध्ययन हो जाता है |

सोशल मिडिया पर फैले झूठ का खंडन : शास्त्र – क्या सच, क्या झूठ आजकल सोशल मिडिया पर, शास्त्रों के बारे में झूठी कहानियों, उपन्यासों और कथाकारों की नित नयी कथाओं ने बहुत भ्रम फैला दिया है | ऐसे ही शास्त्रीय पात्रों को लेकर बनाये गए, झूठी कथाओं और झूठे सन्दर्भों का, शास्त्रों के आधार पर, हम खंडन अथवा सही मालूम होने पर, मंडन भी करते हैं |इसके लिए हमने टेलीग्राम पर शास्त्र-क्या सच, क्या झूठ नाम से ग्रुप बनाया हुआ है, जिसमें आप भी ज्वाइन कर सकते हैं और यदि आपके पास भी कोई पोस्ट आती है, जिसको आपको जांचना है कि क्या वाकई शास्त्रों में ऐसा लिखा है या नहीं, तो आप उस वायरल पोस्ट को, हम तक, टेलीग्राम के माध्यम तक पहुचा सकते हैं | समय मिलने पर उस वायरल पोस्ट का खंडन/मंडन किया जाता है |
टेलीग्राम लिंक को ज्वाइन करने के लिए यहाँ क्लिक करें – शास्त्र – क्या सच, क्या झूठ

शास्त्र – क्या सच, क्या झूठ

शास्त्र ज्ञान टेलीग्राम ग्रुप : इस ग्रुप का उद्देश्य सनातन धर्म के शास्त्रों और ग्रंथो के मूल ग्रंथो का अध्ययन है | इस ग्रुप को ग्रुप स्टडी की तरह से प्रयोग किया जाता है, जहाँ, एक सदस्य, किसी एक ग्रन्थ का अध्ययन करता है, और रोज, उस ग्रन्थ के २ श्लोक या 3 श्लोक ग्रुप पर अर्थ सहित डालते हैं, जिससे कि ग्रुप के सभी सदस्य उन श्लोकों को पढ़ सकें | इससे बिना किसी किताब को छुए अथवा मोटे मोटे ग्रंथो को ढूढें, हम एक साथ 6-7 ग्रंथो को पढ़ सकते हैं, वो भी बिना थके क्योंकि एक दिन में मात्र कुछ ही श्लोक पढने होते हैं अतः सबके लिए आसान होते हैं और यदि उनमें कुछ समझ ना आये तो ग्रुप के सदस्य आपस में चर्चा करके उस ग्रन्थ को समझ भी लेते हैं | आप भी इस ग्रुप को ज्वाइन कर सकते हैं

शास्त्र ज्ञान टेलीग्राम ग्रुप