You cannot copy content of this page
Get it on Google Play

बालसंस्कारशाला 17

Tagged , , Leave a Comment on बालसंस्कारशाला 17

इस बार की बच्चों को पहले बेसिक ध्यान और फिर प्राणायाम कराया गया | तर्कमुद्रा बताई गयी | प्राणायाम क्यों करना चाहिए, ये बताया गया ! उनको बताया गया कि जैसे दीपक […]

READ MORE

खंडन 6 – द्रौपदी के पांच पति नहीं थे, एक था युधिष्ठिर

Tagged , , Leave a Comment on खंडन 6 – द्रौपदी के पांच पति नहीं थे, एक था युधिष्ठिर

खंडन 6 – द्रौपदी के पांच पति नहीं थे, एक था युधिष्ठिर (इस विषय पर लिखी गयी, यशपाल आर्य की पुस्तक का खंडन) वैसे तो मैं कभी किसी भी व्यक्ति, जो शास्त्र […]

READ MORE

खंडन 5 – द्रौपदी के पांच पति थे या एक ?

Tagged , , Leave a Comment on खंडन 5 – द्रौपदी के पांच पति थे या एक ?

खंडन 5 : द्रौपदी के पांच ही पति थे , न कि एक पति युधिष्ठिर ! पोस्ट (युधिष्ठिर को ही द्रौपदी का एकमात्र पति कहने वाली, इस भ्रामक पोस्ट की डिटेल्स नीचे […]

READ MORE

क्या पांडवों ने युद्ध में अधर्म किया था ?

Tagged , , Leave a Comment on क्या पांडवों ने युद्ध में अधर्म किया था ?

जब गांधारी को पता चला की युधिष्ठिर उससे मिलने को आ रहे हैं तो वो रोषपूर्ण आवेग में आ जाती है और युधिष्ठिर को श्राप देने को उद्यत हो जाती है | […]

READ MORE

धर्म क्या है ?

Tagged , , Leave a Comment on धर्म क्या है ?

नेत्युवाच ततो वैश्यः सुखं धर्मे प्रतिष्ठितं | पापे दुखं भयं शोको दारिद्रयं क्लेश एव च | यतो धर्मस्ततो मुक्तिः स्वधर्मं किं विनश्यति | (१७०/२६) धर्ममेव परम् मन्ये यथेच्छसि तथा कुरु | ब्रह्मणाश्च […]

READ MORE

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: