धर्म सम्मत ज्ञान (त्याज्य एवं ग्राह्य)